8/05/2007

मुलाक़ात पी साई नाथ से

पी साई नाथ के चहरे और लेखन से भले ही आज के नए पत्रकार अनजान हो लेकिन मैगसेसे अवार्ड मिलने ले वे लोगों के नजर में आ गए। उनको अवार्ड मिलना आने वाले पत्रकारों को नई दिशा देने का कम करेगा। जहाँ सभी समाचार चैनल भूत, प्रेत और मनोरंजन को त्वोज्जो दे रहे हैं। रविवार को उनसे बातचीत हिंदुस्तान और नव भारत टाईम्स में प्रकाशित हुआ है। जारी...

1 comment:

masijeevi said...

अरे हम तो इस मुलाकात के लिए दौड़े दौड़े आए आपने ट्रेलर तक न दिखाया। :)
पूरी बात रखे